2nd Advisory to Indian Students in Kharkiv

World Breaking News News

खारकीव में फंसे भारतीय नागरिकों के लिए भारतीय दूतावास ने नई एडवायजरी जारी की है। इसमें कहा गया है कि भारतीय नागरिकों को अपनी सुरक्षा के लिए तुरंत और हर हालत में खारकीव से निकल जाना चाहिए।  एडवायजरी में खारकीव में मौजूद भारतीयों से कहा है कि उन्हें पेसोचिन,बेज्ल्युदोवका और बबाये की ओर जितना जल्दी संभव हो बढ़ना चाहिए। किसी भी स्थिति में उन्हें इन स्थानों पर शाम छह बजे (यूक्रेन के समयानुसार) पहुंचना होगा। खारकीव और पूर्वी क्षेत्रों में फंसे भारतीयों को एयरलिफ्ट कराने में रूस मदद कर सकता है। भारत में रूसी राजदूत डेनिस अलीपोव के अनुसार बताया कि हम भारतीय अधिकारियों के संपर्क में हैं। रूसी क्षेत्र से रेस्क्यू कराने पर विचार किया जा रहा है।

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने बताया है कि कीव से सभी भारतीयों को निकाल लिया गया है। दरअसल, मंगलवार को भारतीय दूतावास की ओर से चेतावनी जारी की गई थी, इसमें बताया गया था कि भारतीय नागरिक किसी भी हाल में कीव छोड़ दें। वहीं, केंद्र की मोदी सरकार यूक्रेन में फंसे अपने नागरिकों को निकालने के लिए ऑपरेशन गंगा संचालित कर रही है। इसके तहत यूक्रेन से जमीनी सीमा साझा करने वाले पांच देशों पोलैंड, स्लोवाकिया, रोमानिया, मोल्डोवा और हंगरी के जरिए लोगों को निकाला जा रहा है।